मोटिवेशनल स्पीकर के साथ बिज़नेसमैन भी हैं Sandeep Maheshwari– मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी का परिचय देने की जरूरत नहीं है। संदीप माहेश्वरी की आज पूरे देश में जबरदस्त फैन फॉलोइंग है।

मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी की सफलता की कहानी पढ़ना भी बहुत प्रेरक है। लगातार असफलता के बावजूद उनका हौसला नहीं डगमगाया और उन्होंने लगातार अपनी गलतियों से नई पहचान बनाना सीखा।

भारतीय युवाओं में मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी का क्रेज खूब है। वह बिना फीस लिए सेमिनार आयोजित करते हैं और युवाओं को अपने सपनों को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

 

फोटोग्राफी में रखा कदम

मॉडलिंग और फोटोग्राफी संदीप माहेश्वरी के दो जुनून थे। एक फोटोग्राफर, जब भी उसका दिल बेचैन होता था, वह फोटोग्राफी के लिए निकल जाता था।

 

लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी उनका नाम फोटोग्राफी के वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर के तौर पर दर्ज है। संदीप माहेश्वरी ने 26 साल की उम्र में फोटोग्राफी में अपना करियर शुरू किया और कुछ ही सालों में अपनी खुद की कंपनी बना ली।

घर की आर्थिक स्थिति इस कदर खराब थी कि उन्होंने इंटरमीडिएट की शिक्षा ग्रहण करने के साथ-साथ छोटी-मोटी नौकरी ज्वाइन कर लिया।

हालांकि, उन्होंने आगे पढ़ाई करने की इच्छा नहीं छोड़ी। उन्होंने नौकरी करते हुए किरोरीमल कॉलेज से B.Com की पढ़ाई करने के लिए दाखिला ले लिया। लेकिन घर की स्थिति दयनीय होने की वजह से उन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी।

शुरु किया युवाओं को प्रेरित करना

संदीप (Sandeep Maheshwari) मॉडलिंग में करियर बनाना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने प्रयास भी किया लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। उन्होंने इस क्षेत्र में अनेकों युवाओं को काफी चुनौतियों का सामना करते हुए देखा।

तो उनके मन में विचार आया कि क्यों न उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया जाए। उसके बाद मॉडलिंग न करके उन्होंने खुद के अनुभव को आधार बनाकर युवाओं को प्रेरित करने का कार्य शुरु कर दिया।

Author

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *