Ghaziabad News: इस नए वित्तीय वर्ष के पहले दिन यानी 1 अप्रैल से सभी लोगों को और महंगाई का सामना करना पड़ेगा। जो लोग रोडवेज का सफर करते थे

Ghaziabad News: आज से ग़ज़िआबाद दब जाएगा महंगाई के नीचे, वित्तीय वर्ष में होंगे बड़े बदलाव

Ghaziabad News: इस नए वित्तीय वर्ष के पहले दिन यानी 1 अप्रैल से सभी लोगों को और महंगाई का सामना करना पड़ेगा। जो लोग रोडवेज का सफर करते थे उन्हें भी यह बता दे की रोडवेज की ए सी बसों का सफर महंगा हो जाएगा ।अब तक किराए में 10 फ़ीसदी की छूट मिल रही थी जो भी अब खत्म होने को है। कुत्ते पालने का शौक भी अब लोगों को बहुत महंगा पड़ने वाला है, क्योंकि रजिस्ट्रेशन फीस 5 गुना कर दी गई है और जिन लोगों ने अपनी संपत्ति का कर जमा नहीं करवाया है उन लोगों के ऊपर भी 12 फीसदी ब्याज लगेगा। साथ ही स्कूलों के फीस और कॉपी किताबों के दाम भी पहले के मुकाबले बढ़ गए हैं। इस तरह से लगभग हर चीज के दामों में बढ़ोतरी हुई है तो एक चिंताजनक विषय है।

कुत्ते पालने और रखने का शौक हुआ महंगा:

1 अप्रैल से जो लोग कुत्ता रखते हैं या पालने का शौक रखते हैं उनके लिए भी यह सोचने की बात होगी कि महंगाई का बोझ उन पर इस नजरिए से भी पड़ने वाला है क्योंकि कुत्तों का रजिस्ट्रेशन शुल्क 200 से बढ़कर 1000 रुपए कर दिया गया है ।इसके साथ ही नवीनीकरण करने का शुल्क 100 की जगह 500 कर दिया गया है। और इन नियमों का पालन नहीं करने पर 10000 रुपए तक का जुर्माना लगाना भी नगर निगम ने तय किया है। और इसके साथ-साथ जो लोग प्रतिबंधित नस्ल के कुत्ते रखते हैं या बिना रजिस्ट्रेशन कराए कुत्ते रखते हैं उनके मालिको पर भी जुर्माना लगाया जाएगा।

बढ़ जाएगा ब्याज:

ब्याज का बोझ पढ़ने से लोगों की हालत होगी खराब
पिछले वित्तीय वर्ष में 313 करोड रुपए संपत्ति कर वसूलने का लक्ष्य तय किया गया था मगर 31 मार्च तक नगर निगम ने 295 करोड रुपए का कर्ज वसूल किया है। नगर निगम में 4.52 लाख कुल संपत्तियों से कर वसूली जाने की बात थी जिनमें से 60% यानी करीब 2.71 लाख संपत्तियों का कर्ज जमा हुआ है। ऐसे में बाकी 40% लोगों को संपत्ति काबकाया ऐसे में बाकी 40% लोगों को संपत्ति कर बकायादरों का 12 फीसदी ब्याज चुकाना पड़ेगा। निगम के मुख्य कर निर्धारण अधिकारी डॉक्टर संजीव सिन्हा ने यह बात बताई है कि मौजूदा वित्तीय वर्ष में 94% से अधिक संपत्ति कर वसूला गया है और जिन लोगों का संपत्ति कर नहीं आया है , उनके साथ प्रशासन सख्ती से पेश आएगी और उन लोगों के परिसरों को भी सील करेगी और सीवर पानी के कनेक्शन भी काट देगी ताकि उन्हें अपना कर चुकाना पड़े।

पूरा किराया पढ़ेगा चुकाना:

उत्तर प्रदेश के सरकारी बसों में सोमवार से जो भी एसी बस है उनमें लखनऊ , देहरादून जैसे लंबे सफर पर जाने से पहले यात्रियों को पूरा किराया चुकाना होगा । अधिकारियों ने एसी बसों में जो पहले 10 फीसदी छूट मिलती थी वह भी खत्म कर दी है ।1 अप्रैल से पुरानी दर लागू की जाएगी। कौशांबी डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक ने बताया कि इस बस अड्डे से लखनऊ ,देहरादून, गोरखपुर ,आगरा सहित अन्य शहरों के लिए ए सी बस 2 सीटर और 3 सीटर और वोल्वो बस से चलती है । अभी इन बसों की बड़े हुए किराए के साथ ईटीएम मशीन अपडेट की जा रही है और अब इन एसी बसों में बढ़े हुए किराए के साथ यात्रियों को सफ़र करना पड़ेगा

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *