गर्मियों के आने के साथ-साथ हरियाणा के खोड़ा शहर में पानी की कमी की समस्या बढ़ गई है। इस समस्या का सामना कर रहे लोग अब तक गंगा जल की उम्मीद कर रहे थे,

इस गर्मी खोड़ा के 10 लाख लोग रह जाएंगे प्यासे, मिलेगा सिर्फ दूषित पानी

Noida News: गर्मियों के आने के साथ-साथ हरियाणा के खोड़ा शहर में पानी की कमी की समस्या बढ़ गई है। इस समस्या का सामना कर रहे लोग अब तक गंगा जल की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन डीपीआर के बावजूद भी अब तक पानी की समस्या का समाधान नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नगर विकास मंत्री AK शर्मा की अमृत 2.0 योजना के तहत खोड़ा को शामिल किया गया था, जिसमें 253.14 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया था। लेकिन फिर भी कुछ कार्यक्रमों में देरी के कारण लोगों को पानी की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

क्या बना था बजट?

जल निगम ने 2018 में गंगा जल के लिए खोड़ा के लिए 253.14 करोड़ रुपये का बजट बनाया था, लेकिन इसकी मंजूरी नहीं मिली थी। योजना के अंतर्गत नोएडा विकास प्राधिकरण से 50 एमएलडी पानी खोड़ के लिए लिया जाएगा, जिससे पेयजल लाइन से घर-घर तक पानी पहुंचेगा। लेकिन अब तक इस कार्य को लेकर कागजी प्रक्रिया में देरी हो रही है।

क्या है अधिकारियों का कहना?

लोगों की उम्मीदें बढ़ी हुई थी कि गंगा जल की समस्या का समाधान होगा, लेकिन फिर भी कार्य की देरी से उनकी उम्मीदें टूट गई हैं। अधिकारियों का कहना है कि काम चुनाव के बाद ही शुरू होगा, लेकिन लोगों का कहना है कि इसे जल्दी से जल्द किया जाना चाहिए ताकि जल संकट का समाधान हो सके।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *