Air Pollution In Delhi: एयर पॉल्यूशन का मुद्दा आजकल गंभीरता से उठा हुआ है। धूल, धुआं, और विभिन्न धातुओं के छोटे-छोटे कण वायु में मिलकर सांस की नली में तकलीफ पहुंचाते हैं।

दिल्ली बना दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानी, प्रदूषण के मामले में बना अव्वल

Air Pollution In Delhi: एयर पॉल्यूशन का मुद्दा आजकल गंभीरता से उठा हुआ है। धूल, धुआं, और विभिन्न धातुओं के छोटे-छोटे कण वायु में मिलकर सांस की नली में तकलीफ पहुंचाते हैं। यह न केवल हेल्थ इश्यू का कारण बनते हैं , बल्कि एनवायरनमेंट को भी बिगाड़ देते हैं। इसे दूर करने के लिए, सरकार के साथ-साथ हमें भी अपने स्तर पर काम करने की जरूरत है। आईए इस आर्टिकल से जानते हैं कि क्या है दिल्ली का हाल।

 विश्व की सबसे प्रदूषित राजधानी

 

भारत की राजधानी दिल्ली ने एक बार फिर दुनिया सबसे में प्रदूषित राजधानी का खिताब हासिल किया है। इसे ‘सबसे प्रदूषित शहर’ के रूप में पहचाना जा रहा है। वायु में उच्च स्तरों पर धूल और धुआं के कारण, लोगों को विभिन्न रोगों का सामना करना पड़ रहा है।

 एयर पॉल्यूशन है खतरा

 

एयर पॉल्यूशन के बढ़ने से हमारे बच्चे, बुजुर्ग, और वृद्धों को खासकर बुरा असर पड़ रहा है। इसके अलावा, पोल्यूटेड एयर  भी एनवायरमेंटल चेंजेस को तेजी से बढ़ावा दे रहा है। वायु प्रदूषण को कम करने के लिए, हमें समुदाय के साथ मिलकर कठोर कदम उठाने की आवश्यकता है। इसके लिए, हमें नियमित रूप से वायु गुणवत्ता को मापना, वायु प्रदूषण के खिलाफ जागरूकता फैलाना, और साफ सड़कों को बनाए रखने के लिए साथ मिलकर काम करना होगा।

 क्या है देश की पॉल्यूशन रिपोर्ट?

 

स्विस ग्रुप आईक्यू एयर की रिपोर्ट के अनुसार, 2023 में भारत में औसत वार्षिक पीएम 2.5 54.4 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर था, जिससे यह देश 134 अन्य देशों में तीसरे स्थान पर आया, बांग्लादेश और पाकिस्तान के बाद। बांग्लादेश में यह संख्या 79.9 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर थी, जबकि पाकिस्तान में यह 73.7 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर था।

इसके विपरीत, 2022 में भारत की औसत पीएम 2.5 सांद्रता 53.3 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर के साथ आठवें सबसे प्रदूषित देश के रूप में रही। इसके अलावा, 2022 की रैंकिंग में दिल्ली का नाम नहीं आया था। दिल्ली ने 2018 से लगातार चार बार दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानी का दर्जा प्राप्त किया था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *