बिहार

बिहार सरकार की ओर से आया ये बड़ा फैसला,बिहार में जितने भी चलने लायक गाड़ियां नही है उन सभी को कबाड़ में नष्ट किया जाएगा। वाहन के मालिकों को कई लाभ दिए जायेंगे। इसके लिए राज्य के 15 जिलों में 21 कबाड़ केंद्र खुलेंगे। इन केंद्रों पर पुराना तथा विभिन्न कारणों से क्षतिग्रस्त गाड़ियों को कोई भी नष्ट कर सकेगा।

अन्य जिलों में भी जल्द ही केंद्र की स्तपना की जाएगी।इसी टॉपिक में विभागीय पदाधिकारी का कहना है की जो गाड़ियां सड़क पर चलने लायक नही है, उन्हे कबाड़ केंद्रों में नष्ट करवाया जाएगा। उन लोगो ने ये भी स्पष्ट किया है की जीतने भी दाम की गाड़ियां नष्ट की जाएगी उसकी श्रेणी में नई गाड़ी खरीदने पर सरकार की ओर से टैक्स में छूट का लाभ भी मिलेगा।

बिहार

अपको ये भी बता दे, रिकॉर्ड की जांच राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के साथ ही स्थानीय पुलिस की ओर से चोरी होने वाले वाहनों की रिकॉर्ड से भी मिलान किया जाएगा। जिन गाड़ियों को कबाड़ केंद्रों में नष्ट किया जाएगा, उसका रिकॉर्ड कम से कम छह महीने तक सुरक्षित रखा जाएगा। साथ ही, इन गाड़ियों को नष्ट करने की प्रक्रिया की पूरी जानकारी परिवहन विभाग को दी जाएगी, ताकि अगर कोई दावा करे तो उसका सत्यापन हो सके।

बिहार

और कबाड़ केंद्र के यार्ड में सीसीटीवी कैमरा लगाना अनिवार्य होगा। छोटे वाहनों के कबाड़ केंद्र लिए न्यूनतम 4000 वर्गफीट और बड़े वाहनों के लिए 8000 वर्गफीट जगह होनी चाहिए।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *