चुस्की

हम अक्सर TV के हीरो की बातें करते है पर असली हीरो जिन्होंने अपने साथ-साथ लोगो का भी भला किया है ऐसे हीरो का चर्चा करना ही हम भूल जाते है, आज हम आपको एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताने जा रहे है।

बिहार के एक छोटे से गांव में जन्मा बच्चा जिसने बचपन में ही प्रण ले लिया था कुछ कर दिखाने का, अभिषेक राज नामक नौजवान जिन्होंने न ही सिर्फ खुद को बल्कि बिहार को देखने का एक नजरिया दिया है।अभिषेक ने अपनी पूरी पढ़ाई बिहार से किया और बिहार को बेहतर बनाना ही अपनी ज़िंदगी का लक्ष्य बना लिया।

चुस्की

और फिर आई चुस्की द कैफे -टी स्टॉल, जिन्होंने लाखो लोगो को एक चाय की चुस्की के साथ ही साथ लोगो के मन में नया उत्साह दिया है।

# क्या है चुस्की?

अपको बता दे बिहार के खगड़िया जिले का नंबर 1 टी स्टॉल जो की अभिषेक, उनके बचपन के मित्र और बहुत ही एक्सपेरिंस्ड बिजनेस मैन अमित और अभिषेक के छोटे भाई अंशु पांडे ने मिलकर खोला है । ये पूरे खगड़िया में नामी है और तो और लोगो को बहुत पसंद आ रही है चुस्की की चाय।

चुस्की

 

आइए पहले बात करते है इन शख्सियत के बारे में, आपको बता दें कि अभिषेक राज ने करीब 10 साल ऑटोमोबाइल सेक्टर में एचआर मेनेजर के पोस्ट पर काम किया है और इतने साल का वर्क एक्सपेरिंस ही नही बल्कि वो दो सक्सेसफुल कंपनी लैदर्स जोन प्राइवेट लिमिटेड और आईटी कंपनी इन्फोट्रॉनिक्स मीडिया प्राइवेट लिमिटेड के मालिक है, और एक बड़ी टीम उनके अंडर काम कर रही है।

आइए जानते है उनके और चुस्की के बारे में उनकी ही जुबानी,

# अभिषेक आपको चुस्की का आइडिया कहा से आया?

अभिषेक : मैने अपनी ज़िंदगी में बहुत स्ट्रगल देखे है और बहुत एक्सपीरियंस भी किया, और एक बात जानी की चाय दोस्त और पुराने किस्से, यह है जिंदगी के कुछ अटूट हिस्से। मन में खयाल आया कुछ ऐसा करना होगा जो लोगो को नजदीक लाए और किस्से याद दिलाए।

# क्या प्लान है चुस्की का भविष्य का?

अभिषेक: चुस्की का लक्ष्य है बिहार के हर शहर शहर गांव गांव तक स्टॉल पहुंचना और सभी को चुस्की का आनंद देना और साथ ही रोजगार देना।

# ऐसा क्या है चुस्की में जो बाकी चायवाले से इसे अलग बनाता है?

अभिषेक: हमारे चुस्की में २ बातों का अहम ख्याल रखा गया है

: पहला है हाइजीन, लोग अक्सर ठेले पर की चाय नहीं पी पाते है क्योंकि वहा की गंदगी उन्हे परेशान करती है, चुस्की की टीम इस बात का अहम ख्याल रखा है पूरे टीम अच्छे तरीके से सैनिटाइज और मास्क ग्लोव्स में नजर आयेंगे आपको।

: दूसरा और सबसे बड़ी दिक्कत जो मैने देखी है वो है महंगाई, लोग का सोच होता है अच्छी चाय सस्ते में नहीं मिलती, हमारे चाय अफोर्डेबल तो है ही और इसकी क्वालिटी पर भी खूब ध्यान रखा गया है।

 

चुस्की

# एक वेल एस्टेब्लिश्ड खुद की कंपनी होने के बाद ये चुस्की खोलने का क्या था कारण?

अभिषेक: जी हां! मैं कई साल तक एचआर का जॉब किया हूं और खुद की कंपनी में भी एक प्रोब्लम कॉमन दिखी वो थी लैक ऑफ स्किल, एक क्राइटेरिया रहा शुरू से, कोई टेक्निकल नॉलेज मांगता है तो कोई अच्छा स्पीकर मैने सोचा ऐसे कुछ क्यूं ना किया जाए जिसमे कोई क्राइटेरिया नहीं हो है कोई ये काम कर सके और रोजगार जायदा से जायदा लोगो को मिले तभी चुस्की आया मेरी जिंदगी में और उसने कई लोगो को एक चुस्की के साथ साथ एक एहसास दिया है।

 

# चुस्की के आइटम लिस्ट में क्या क्या है शामिल?

अभिषेक: चुस्की में चाय के साथ साथ कॉफी, हॉट चॉकलेट, सोडा, लेमन टी, शुगर फ्री टी, जिंजर टी और भी कई ड्रिंक्स आपको मिलेंगे।

 

चुस्की

और ये थी हमारे और अभिषेक के बातें, आइए अब हम आपको बताते है क्या है कस्टमर्स का फीडबैक

: एक कस्टमर का कहना है, चुस्की में चाय पीने के बाद जब भी सुबह आंखें खुलती है सच में चाय की चुस्की नही बल्कि चुस्की की चाय की याद आती है।

: एक कस्टमर ने कहा एक लड़की के लिए स्टॉल पर खड़े होकर चाय पीना काफी मुश्किल होती है पर थैंक्स टू चुस्की टीम न ही सिर्फ मैने वहा चाय की चुस्की ली बल्कि उन्होंने बहुत अच्छी सर्विस दी और अब पता चला की सच में शराब की बिहार में क्या जरूरत जब चुस्की का नशा लोगो को लग रहा है।

सच में रीयल हीरो होते है और इसका साक्षात उद्धरण मिस्टर अभिषेक राज है जो की ना ही सिर्फ खुद को बल्कि अपने राज्य को भी बढ़ावा दे रहे है। हमारा टीम हर उस हीरो जो खुद से बढ़कर लोगो की सोच रहा हो, को सलाम करता है।

अभिषेक राज जी ने यह भी बताया कि कोई फ्रेंचाइजी लेना चाहता हो या हमारी टीम से जुड़कर काम करना चाहता हो तो 9431008029 पर कॉल कर सकता है।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *