Multiple Bank Accounts :- आजकल हम देखते हैं कि कुछ लोगों के पास एक से ज्यादा बैंक में सेविंग अकाउंट होते हैं. कई बार जॉब करने वाले लोगों का उनकी संस्था सेविंग अकाउंट खुलवा (Saving Account Opening) देती है और नौकरी के बाद वह उस अकाउंट को बंद करना ही भूल जाते हैं. लेकिन क्या आपको मालूम है कि एक से अधिक बैंक में अकाउंट रखने के आपको फायदे तो है लेकिन इसके आपको कुछ नुकसान (Pros and Cons of Multiple Bank Account) भी उठाने पड़ सकते हैं. तो आइए कुछ जानते हैं अधिक…

एक से ज्यादा बैंक अकाउंट होने पर होगा है यह नुकसान

1. सिबिल स्कोर (CIBIL Score) पर पड़ेगा असर

बता दें की अगर आप मल्टीपल अकाउंट (Multiple Bank Account) होल्डर्स है और आप अपने बैंक के खाते का काफी लंबे समय से इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो वह निष्क्रिय हो जाएगा. साथ ही मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं करने पर बैंक आपको उस अकाउंट पर जुर्माना भी लगा सकता है. इस जुर्माने के कारण आपके ग्राहक के सिबिल स्कोर पर भी इसका असर पड़ सकता है.

2. हो सकते हैं फ्रॉड के शिकार

कई बार ऐसा होता है कि हम एक से अधिक बैंक अकाउंट (Multiple Bank Account) होल्डर्स होते हैं इसलिए हम अपने सभी अकाउंट की सही इंफॉर्मेशन रखने में सक्षम नहीं हो पाते हैं. इन संजोगो में फ्रॉड करने वाले लोग आपके पैन कार्ड (PAN Card) और आधार कार्ड (Aadhaar Card) की जानकारी चुराकर आपके बैंक अकाउंट को खाली कर सकते हैं. इसलिए एक से अधिक बैंक अकाउंट होने पर आप फ्रॉड का सामना करना पड़ सकता है.

3. ITR भरने में हो सकती है दिक्कत

जानकारी के मुताबिक, इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) दाखिल करते वक्त हमें अपने सभी बैंक खातों और उनमें जमा रकम की जानकारी भी दर्ज करनी पड़ती है. ऐसे में कई बार सभी बैंक अकाउंट की डिटेल निकालने में परेशानी हो सकती है उसको यदि हम अपने रिटर्न दाखिल करते वक्त किसी अकाउंट को दर्ज करना भूल जाते हैं तो हमें अधिक ब्याज का भुगतान भी करना पड़ सकता है.

4. करना पड़ सकता ज्यादा पैसे का भुगतान

बता दें की आजकल लोग डेबिट कार्ड और SMS Alert, लोन आदि की सुविधा के लिए भी एक से अधिक बैंक अकाउंट ओपन करवाते है. लेकिन इसलिए इस सुविधा के लिए सभी बैंक अपने कस्टमर्स से अलग-अलग सर्विस चार्ज (Banking Service Charge) भी वसूल करता है. यही वजह है कि एक से अधिक बैंक अकाउंट (Multiple Bank Account) होने पर आपको अलग-अलग बैंकों के सर्विस चार्ज भुगतान करने पड़ते हैं. ऐसे में इस कारण आपको हर साल पैसे का अधिक भुगतान करना पड़ सकता है.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.