देश के सबसे बड़े वाहन चोर को बीते दिनों दिल्ली पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी का नाम अनिल चौहान है और यह असम का रहने वाला है. आरोपी ने अभी तक 8000 से ज्यादा गाड़िया चुराई हैं. आरोपी अनिल चौहान के ऊपर कुल 181 मामले दर्ज हैं जिनमें से 146 मामले केवल दिल्ली में ही दर्ज हैं. बाकी के मामले उत्तर प्रदेश, हरियाणा और असम जैसे राज्यों में दर्ज हैं. बता दें कि गाड़ी चोरी के अलावा यह हथियारों और जानवरों के अंगों का भी तस्करी करता है. साल 2015 में आरोपी अनिल को पुलिस ने तत्कालीन कांग्रेस विधायक रूमीनाथ के साथ गिरफ्तार किया था. हालांकि, बाद में आरोपी पुलिस गिरफ्त से बच निकला था.

असम का टॉप वन सरकारी कंस्ट्रक्टर है आरोपी

बता दें की आरोपी अनिल चौहान साल 1990 से गाड़ियों की चोरी, जानवरों के अंगों की तस्करी तथा हथियारों की तस्करी करता आ रहा है. लेकिन अपने राजनीतिक पहुंच के वजह से यह असम के टॉप वन सरकारी कांट्रेक्टर भी रहा है. और असम में आरोपी ने काफी ज्यादा पैसे भी कमाए थे. आरोपी ने असम में करोड़ों की संपत्ति बना ली थी. हालांकि साल 2015 में जब इस को गिरफ्तार किया गया था तो इसके संपत्ति को प्रवर्तन निदेशालय ने जप्त कर लिया था.

पुलिस ने बड़ी होशियारी के साथ आरोपी को किया गिरफ्तार

बता दें कि आरोपी अनिल का कहना है कि इस ने साल 1990 में दिल्ली में अपनी 12वीं की पढ़ाई करने के बाद से गाड़ी और चुरानी शुरू की और इसने पहली गाड़ी मारुति 800 चुराई थी और अब तक इसने कुल आठ हजार से ज्यादा गाड़ियां चुराई हैं यह दिल्ली के अलग-अलग कोनों से गाड़ियां चुराकर उत्तर पूर्वी राज्य ले जाकर बेच दिया करता था. दिल्ली पुलिस काफी समय से इस आरोपी की तलाश कर रही थी. बता दें कि दिल्ली पुलिस एक हथियार तस्कर से भी काफी ज्यादा परेशान थी ऐसे में दिल्ली पुलिस को सूचना मिला कि देशबंधु गुप्ता रोड पर आरोपी आने वाला है और जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने पूरी प्लान तैयार करके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया बाद में पुलिस को पता चला कि ये तो 8000 गाड़ियां चोरी करने वाला अनिल चौहान है. पुलिस ने इसको चोरी के बाइक के साथ-साथ एक पिस्टल और दो कारतूस के साथ गिरफ्तार किया है.

गैंडे के सींग का भी करता है तस्करी

बता दें कि अनिल चौहान न सिर्फ गाड़ियां चोरी करता है बल्कि यह गैंडे के सींग के साथ-साथ कई जानवरों के अंगों का भी तस्करी करता है और तो यह हथियारों का भी तस्करी करता है. दिल्ली पुलिस ने कई बार इस को गिरफ्तार करने की कोशिश की. लेकिन यह हर बार बच निकलता था. एक बार इसको दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था जिसके बाद इसने दिल्ली पुलिस के ऊपर फायर करके भाग गया था और असम में यह अपने राजनीतिक पावर के चलते बचता रहता था। हालांकि आखिरकार पुलिस ने इसको धर दबोचा है. फिलहाल आरोपी पुलिस की हिरासत में है पुलिस इससे पूछताछ कर रही है.

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.