Debit-Credit Card Rules: 1 अक्टूबर से रिजर्व बैंक कार्ड के नियमों में बड़ा बदलाव करने जा रहा है. आज के समय में हर दूसरा व्यक्ति डेबिट (Debit Card) या फिर क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर रहा है.

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने जानकारी देते हुए बताया है कि टोकनाइजेशन सिस्टम में बदलाव आने के बाद कार्डहोल्डर्स को ज्यादा सुविधाएं और सुरक्षा दी जाएगी. कार्डहोल्डर्स के पेमेंट करने के अनुभव में भी काफी सुधार आएगा.

कार्ड को बदल सकेंगे टोकन में बिना भुगतान के

जानकारी के मुताबिक, नए टोकन सिस्टम के तहत डेबिट और क्रेडिट कार्ड का पूरा डेटा ‘टोकन’ में परिवर्तित हो जाएगा. इससे आपके कार्ड की जानकारी को एक डिवाइस में छिपा करके रखा जाएगा. कोई भी शख्स टोकन बैंक पर रिक्वेस्ट कर कार्ड को टोकन में आसानी से बदल सकता है. कार्ड को टोकन करने के लिए कार्डधारक को कोई भुगतान नहीं करना पड़ेगा. अगर आप अपने कार्ड को टोकन में बदल लेते हैं तो किसी भी शॉपिंग वेबसाइट या ई-कॉमर्स वेबसाइट पर आपके कार्ड की जानकारी को टोकन में सेव किया जा सकेगा.

धोखाधड़ी के मामलों पर लगेगी रोक

जानकारी के मुताबिक, नए नियमों का उद्देश्य क्रेडिट और डेबिट कार्ड के जरिये पेमेंट को पहले से अधिक सुरक्षित बनाना है. नए नियम के लागू होने के बाद ग्राहक डेबिट या क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन, पॉइंट ऑफ सेल (POS) या ऐप पर ट्रांजैक्शन करेंगे, तो सभी डिटेल इनक्रिप्टेड कोड में सेव होगी.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.