नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन जल्द ही सेक्टर 142 से बोटैनिकल गार्डन तक एक्वा लाइन मेट्रो को बढ़ाने की तैयारी में है. एनएमआरसी यानी नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन हाल फिलहाल में कई विकल्पों पर काम कर रहा है. अगर इनमें से किसी भी एक विकल्प पर सहमति बन जाती है तो जल्द ही नोएडा सेक्टर 142 से बोटैनिकल गार्डन तक एक्वा लाइन मेट्रो रफ्तार भरती दिखाई देगी बता दें, एनएमआरसी ने इसके लिए तीन विकल्प रखे हैं. शनिवार को इससे जुड़ी हुई एक बैठक हुई थी. जिसमें स्टेकहोल्डर और एनएमआरसी अधिकारियों के साथ आरडब्ल्यू गांव के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था.

एनएमआरसी ने रखे हैं तीन विकल्प

नोएडा की नई मेट्रो एक्वा लाइन का एलॉटमेंट जल्द फाइनल किया जाएगा. शनिवार को हुई इस बैठक में तीन विकल्पों पर बात हुई थी. बैठक में एक विकल्प पर सहमति भी बनी थी. जिसके बाद इस विकल्प को आगे भेज दिया गया है. जैसे ही यह विकल्प प्रोसेस होगा उसके बाद डीपीआर बनने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी और डीपीआर बनने की प्रक्रिया जब तक चलेगी तब तक इस प्रोजेक्ट के दूसरे हिस्सों पर काम किया जाएगा. वहीं जब इस प्रक्रिया पर काम पूरा कर लिया जाएगा तो आगे का प्रोसेस शुरू होगा. मिली जानकारी के अनुसार जो नई एक्वा लाइन मेट्रो बनेगी उसको ब्लू लाइन और मजेंटा लाइन से जोड़ने की बात कही गई है. ज्ञात हो पहले इस मेट्रो को एक्सप्रेसवे के समांतर ले जाने की बात कही गई थी, लेकिन बाद में इस पर विस्तार से चर्चा हुई तो इस मेट्रो को आवासीय इलाकों से होकर निकालने पर सहमति बनी थी.

प्रस्तावित है छह मेट्रो स्टेशन

आवासीय इलाके से मेट्रो लाइन निकालने की सबसे बड़ी वजह बताई गई कि यहां आवासीय इलाकों में रहने वाले लोगों को इसकी वजह से फायदा होगा. वहीं आपको बता दें, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने जो डीपीआर तैयार किया था. उसमें छह स्टेशनों की बात कही गई थी जिसमें सेक्टर 142, 91, 98, 97 और 125 शामिल हैं. डीएमआरसी के एमडी रितु माहेश्वरी ने जो रिपोर्ट 100 की थी. उसने 900 मीटर की दूरी और बढी हुई है. यह तो हो गई पुरानी बात अब नई बैठक में हुई चर्चा पर बात करें तो इन छह स्टेशनों में थोड़ा बदलाव करने पर विचार किया गया है और तीन विकल्प आम जनमानस के सामने रखे गए हैं.

यह रहे तीन विकल्प

आखिर में इन तीन विकल्पों की बात की जाए तो इनमें से पहला विकल्प स्टेशन- सेक्टर-91, सेक्टर-98, सेक्टर-97, सेक्टर-125 और बोटेनिकल गार्डन है.

दूसरा विकल्प- वहीं दूसरे विकल्प की बात करें तो इसमें थोड़ा बदलाव किया गया है और इसमें स्टेशन- बालक इंटर कालेज, सेक्टर-93, सेक्टर-108/105, सेक्टर-104/98 सेक्टर-45/44 बोटेनिकल गार्डन तक रखने का विचार है.

तीसरा विकल्प – तीसरे और आखिरी विकल्प के बारे में भी जान लीजिए जो इस तरह है. स्टेशन- बालक इंटर कालेज, सेक्टर-93, जनपथ, सेक्टर-104/98, सेक्टर-45/44, बोटेनिकल गार्डन है.

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.