जब भी देश की विकास पर बातें होती है हम अक्सर युवा पीढ़ी और बच्चो पर ये जिम्मेदारी देते है , पर उनके शिक्षा की जब बात आती है , मूल्य ज्ञान की बाते आती है तो शायद इसमें आज भी हम कहीं चूक जाते है।

आज आपको एक ऐसी महान महिला के बारे में बताने जा रहे है जिन्होंने शिक्षा को एक नई उड़ान दी है ।

आइए जानते है सुमिता बोस के बारे में 

सुमिता बोस दिल्ली की रहने वाली महिला है जिन्होंने कई सालो तक स्कूल में बच्चों को शिक्षा दी। सुमिता शुरू से ही अपने देश के बच्चो के लिए कुछ करना चाहती थी, उनका मध्यम उनका ज्ञान बना। सुमिता बोस छोटे बच्चो को मैथमेटिक्स पढ़ाया करती थी, लेकिन उन्हें लगता था वो अभी भी अपने सपने को पूरा करने में असफल है।

सुमिता को लिखने का बहुत शौख था , उन्होंने निर्णय लिया की वो किताबे लिखेंगी जो हर बच्चो तक पहुंच सके।
उन्होंने कई किताबे लिखी बच्ची के लिए, बल्कि सुमिता भारत की पहली महिला थी जिन्होंने ऑटिज्म के बारे में लिखा ।

आज भी भारत में बहुत से लोग इस बीमारी से अनजान है। ऑटिज्म के बारे में रिसर्च कर लिखा और उन्होंने कई खिताबे भी जीती । उन्होंने अपने हिम्मत और लगन से कई बच्चो तक ज्ञान पहुंचाया ।

शुरुवाती सालो में वो मैगजींस में अपने कहानियां लिखती फिर धीरे धीरे उन्होंने अपने बुक्स को पब्लिश करवाया, जिसका काफी अच्छा रिस्पॉन्स रहा मार्केट में, आज कई लोग सुमिता को बुक राइटर के माध्यम से जानते है।

इस साल उन्होंने एक नई बुक पब्लिश कराई है, आइए जानते है उस बेहतरीन पुस्तक के बारे में

उनकी पुस्तक का नाम यंग डिटेक्टिव है जो 9 साल से ऊपर के बच्चो के लिए है, इस पुस्तक में कई छोटी छोटी कहानियां है जिन कहानियों के अंत में कुछ सवाल है जो बच्चे को हल करना होता है।

ये बुक आपको अमेजन में आसानी से मिल जायेगा। इसका लिंक नीचे दिया गया है। ये पुस्तक के जरिए बच्चो में पढ़ने और समझने की जिज्ञासा जगाना ही उनका लक्ष्य है।

https://www.amazon.in/YOUNG-DETECTIVE-SUMITA-BOSE/dp/9391813038/ref=mp_s_a_1_1?keywords=sumita+bose+young&qid=1663496094&sr=8-1

धीरे ही सही पर इन्होंने न ही अपने सपने को पूरा किया बल्कि कई बच्चो को एक नया नजरिया दिया देखने के लिए।

कहते है पेड़ तब मजबूत होगा जब जड़े मजबूत होंगी। देश तब आगे बढ़ेगा सब सही शिक्षा मिलेगी और सुमिता ने इन जड़ों को मजबूत किया है और कर रही है।

बच्चो की जिज्ञासा , को बढ़ाना और उनमें ज्ञान का पिटारा भरना ही सुमिता का लक्ष्य है।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.