दिल्ली का इतिहास पुराना रहा है और इन्हीं ऐतिहासिक स्थलों में से चांदनी चौक भी एक है. चांदनी चौक की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि को बरकरार रखने के लिए पुर्नविकास परियोजना के तहत एक बार फिर से दूसरे चरण में चांदनी चौक का स्वरूप बदलने की कोशिश की जाएगी. इस योजना के तहत जल्द चांदनी चौक पर दूसरे चरण का काम शुरू होने की बात कही गई है. इसके तहत चांदनी चौक की पुरानी इमारतों को नया स्वरूप दिया जाएगा. साथ ही ऐतिहासिक समृद्धि और संस्कृति को भी जस के तस बनाने की कोशिश की जाएगी. नए स्वरूप के अंतर्गत इसका नया इंटीरियर भी डिजाइन किया जाएगा और स्वरूप के अंतर्गत चांदनी चौक पर कई सारे नए काम भी देखने को मिलेंगे.

बदलेगा चांदनी चौक का स्वरूप

बता दें, इस दौरान आधुनिकता को तो प्राथमिकता दी ही जाएगी. साथ ही इसके ऐतिहासिक पृष्ठभूमि में बदलाव लाने के लिए नए इंटीरियर का इस्तेमाल किया जाएगा. यहां की इमारतों और दुकानों पर खूबसूरत और आकर्षक लाइटें लगाई जाएंगी. जो चांदनी चौक के इतिहास को प्रदर्शन करने में अहम भूमिका निभाएंगी. साथ ही कई सारे और काम है. जिनकी जानकारी ऑफिशियल तौर पर नहीं दी गई है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस मामले से जुड़ी समीक्षा बैठक की थी. इस दौरान तमाम अधिकारी इस बैठक में मौजूद रहे थे. सिसोदिया ने बताया चांदनी चौक की वास्तुकला को बरकरार रखते हुए यहां के दुकानदारों और यहां के निवासियों के हित को भी सरकार ध्यान में रखेगी और इसका स्वरूप बदला जाएगा. दिल्ली सरकार का मानना है चांदनी चौक का स्वरूप बदलने के बाद यहां लोगों का आवागमन और बढ़ेगा. जिससे पर्यटन के मामले में भी काफी बढ़ोतरी आने की संभावना है.

दुकानदारों – ग्राहकों की परेशानी का रखा जाएगा ख्याल

सोमवार को हुई इस समीक्षा बैठक में सिसोदिया ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया और कहा कि यहां आने वाले ग्राहकों को कोई दिक्कत ना हो इसके लिए अधिकारियों को पूरा तत्पर रहने की जरूरत है. वहीं दुकानदारों को भी कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए. साथ ही यह भी जान लीजिए उपमुख्यमंत्री ने इस बैठक में मोहल्ला क्लीनिक की भी समीक्षा की. इसमें अधिकारियों ने बताया 12 इलाकों में मोहल्ला क्लीनिक पूरी तरह बनकर तैयार हो चुके हैं. वहीं 52 मोहल्ला क्लीनिक पर काम चल रहा है. जिन पर काम जल्द ही निपट जाएगा और वह लोगों के लिए सेवा में जुट जाएंगे.

दूसरे चरण में कराए जाएंगे यह काम

 

 

1. चांदनी चौक की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि को बरकरार रखते हुए यहां के स्वरूप में खूबसूरत रंग देने की कोशिश की जाएगी.

 

 

2. दुकानों और इमारतों पर आधुनिक लाइटें लगाई जाएंगी.

 

3. योजना के तहत साइनेज स्कीम का भी इस्तेमाल किया जाएगा.

 

4. ऐतिहासिक वास्तुकला को बरकरार रखने की करी जाएगी पूरी कोशिश.

Author

By Anshu Pandey

Anshu Pandey Is Edtior Of Expresskhabar.in , Anshu Pandey writing news Of Expresskhabar.in

Leave a Reply

Your email address will not be published.