फरीदाबाद :- हरियाणा से होकर गुजरने वाले दिल्ली- मुंबई एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य में आ रही एक बड़ी बाधा को अब दूर कर लिया गया है. इस बाधा के दूर होने से अब हरियाणा में दिल्ली- मुंबई एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य रफ्तार पकड़ सकेगा और लोगों को बहुत ही जल्द इस एक्सप्रेसवे पर सफर करने का मौका मिल सकेगा.

400 झुग्गियां कर रही समस्या पैदा

बता दें कि इस एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्य में फरीदाबाद जिले के संतोष नगर, राजीव नगर सेक्टर-32-33 में स्थित कच्ची पक्की करीब 400 झुग्गियां बड़ी समस्या पैदा कर रही थी जिसे हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की सर्वे शाखा द्वारा अब दूर कर दिया गया है.

आशियाना स्कीम के तहत फ्लैट उपलब्ध

जानकारी के मुताबिक, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने इन झुग्गियों का सफाया करने की तैयारियां शुरू कर दी थी लेकिन इन झुग्गियों में रहने वाले लोगों द्वारा अधिकारियों से अनुरोध किया गया कि वे एक- दो दिन में खुद ही इन झुग्गियों से अपना सामान उठा कर चले जाएंगे, जिसके बाद से कार्रवाई रोक दी गई है. हालांकि कई झुग्गी वालों के पास कोर्ट का स्टे आर्डर भी था, जिसके बाद शहरी प्राधिकरण द्वारा इन लोगों को आशियाना स्कीम के तहत फ्लैट उपलब्ध करा दिए गए थे.

दो दिन बाद टीम द्वारा हटाई जाएंगी बची हुई झुग्गियाँ

वहीं अब हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण सेक्टर-17 प्रेम नगर में बनी झुग्गियों का सफाया करने की तैयारियां कर रहा है और पुलिस बल मिलते ही यहां कार्रवाई भी शुरू कर दी जाएगी. प्राधिकरण द्वारा लोगों को नोटिस भेजकर भी सूचित कर दिया गया है लेकिन इसके बावजूद भी कुछ लोगो द्वारा अपने निर्माण नहीं हटाए जा रहे हैं. यदि ये झुग्गियाँ नहीं हटाई जाती है तो अधिकारियों का दस्ता खुद पहुंचकर इन झुग्गियों को साफ कर देगा. अब दो दिन बाद ही टीम खुद फिर इन झुग्गियों का सफाया करने के लिए जाएगी और जो झुग्गियां बची हुई है उन्हें हटाया जाएगा.

पीएमओ की निगरानी में जारी है काम

बता दें की इस प्रोजेक्ट का निर्माण कार्य प्रधानमंत्री कार्यालय की निगरानी में चल रहा है और वहां के अधिकारी समय- समय पर यहां के अधिकारियों से जानकारी प्राप्त कर रहे हैं. जवाबदेही के चलते स्थानीय अधिकारियों पर भी एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्य को पूरा करने का दबाव साफ दिखाई दे रहा है और एक्सप्रेसवे की राह में आने वाली सभी बाधाओं को एक- एक करके दूर करने का प्रयास किया जा रहा है.

कुछ चीजें शिफ्ट होनी अभी बाकी

हालांकि बिजली के हाईटेंशन लाइन के टावर, पेट्रोल पंप, सीएनजी पंप, ट्यूबवेल और शराब ठेके शिफ्ट होने अभी बाकी है. इसके अलावा बाकी बाईपास के सभी चौराहों पर अंडरपास बनाने का कार्य तेज गति से चल रहा है. बड़ौली के सामने 1700 मीटर लंबा एलिवेटेड रोड़ का निर्माण कार्य भी जारी है.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.