नई दिल्ली :- सरकार ने उत्सर्जन मानकों वाले पेट्रोल और डीजल वाहनों में सीएनजी और एलपीजी किट लगाने की अनुमति अभी तक केवल बीएस-4 उत्सर्जन मानदंड वाले वाहनों के लिए ही दे रखी थी. लेकिन अब सरकार ने भारत चरण-छह (बीएस-छह) उत्सर्जन मानकों वाले पेट्रोल और डीजल वाहनों में सीएनजी और एलपीजी किट लगाने की अनुमति दे दी है.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना

जानकारी के मुताबिक, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा अधिसूचना में कहा गया है की, ” मंत्रालय ने बीएस -6 पेट्रोल वाहनों में सीएनएजी और एलपीजी किट लगाने और बीएस-6 वाहनों के मामले में 3.5 टन से कम डीजल इंजनों को सीएनजी / एलपीजी इंजन से बदलने की अधिसूचना जारी कर दी है.” मंत्रालय के अनुसार अधिसूचना ‘रेट्रोफिटमेंट’ के लिये अनुमोदन आवश्यकताओं का निर्धारण करती है.

अधिसूचना विभिन्न पक्षों के परामर्श से तैयार

बता दें की सीएनजी एक पर्यावरण अनुकूल ईंधन है और पेट्रोल और डीजल इंजन की तुलना में कार्बन मोनोऑक्साइड, हाइड्रोकार्बन और धुएं आदि के उत्सर्जन स्तर को कम करता है. सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा यह भी कहा गया है कि अधिसूचना विभिन्न पक्षों के परामर्श से तैयार की गई है.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.