नई दिल्ली :- वाहनों में उपयोग होने वाले इंधन जैसे :- पेट्रोल डीजल और सीएनजी के दामों में लगातार हो रही बढ़ोतरी ने वाहन चालकों का बुरा हाल कर दिया है और जब लोगों ने इससे परेशान आकर सीएनजी के वाहनों को खरीदना शुरू कर दिया तो इनके दाम भी बढ़ गए. अब स्थिति यह बनी हुई है कि दिल्ली से सटे गुरुग्राम में सीएनजी के दाम प्रति किलो डीजल की कीमत से भी अधिक हो गए हैं.

आने वाला समय इलेक्ट्रिक वाहनों का

इसी बीच एक खुशखबरी भी मिली है केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने खुशखबरी देते हुए कहा कि आने वाला समय इलेक्ट्रिक वाहनों का होगा. उन्होंने यह भी कहा कि अगले 1 साल के दौरान इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमत पेट्रोल वाहनों के बराबर ही आ जाएगी.

इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने में फायदा

जानकारी के मुताबिक पेट्रोल पर खर्च करने किये गए ₹100, इलेक्ट्रिक वाहन को चलाने में यह लागत घटकर ₹10 आ सकती है. कुल मिलाकर इलेक्ट्रिक वाहन चलाने में 10 गुना कम खर्चा आएगा. वही इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार भी लगातार प्रयास कर रही है. दिल्ली एनसीआर के ज्यादा इलाकों में सीएनजी की कीमत ₹80 प्रति किलोग्राम के आसपास है. वही गुरुग्राम और रेवाड़ी में सीएनजी के दाम सबसे अधिक है. ऐसे में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने में ही फायदा है.

एक और खुशखबरी

बता दे कि लिथियम-आयन बैटरी की कीमत में तेजी से गिरावट आ रही है. कहना है की जिंक-आयरन, एल्मुनियम-आयन, सोडियम-आयन बैटरी का विकास किया जा रहा है. अधिकतम 2 साल में इलेक्ट्रिक स्कूटर, कार, ऑटो रिक्शा की कीमत पेट्रोल से चलने वाली स्कूटर,कार,ऑटोरिक्शा के बराबर ही हो जाएगी.

 ₹1 प्रति किलोमीटर से भी कम आएगा खर्च

जानकारी है कि ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली कार से चलने पर ₹1 प्रति किलो मीटर से भी कम का खर्च आएगा. वही इसके उल्टे पेट्रोल पर चलने वाली कार का खर्च 5-7 रूपये प्रति किलोमीटर आता है. इस पर भी तेजी से काम चल रहा है.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.