नई दिल्ली :- दिल्ली मेट्रो रेल निगम द्वारा दो-दो मेट्रो कॉरिडोर का डीपीआर तैयार किया गया है. दिल्ली से जेवर एयरपोर्ट के बीच यात्रियों के लिए दो मेट्रो बदली होगी और कुल कॉरिडोर 72.5 किलोमीटर का निश्चित किया गया है. ग्रेटर नोएडा से जेवर एयरपोर्ट के बीच बनने वाला मेट्रो कॉरिडोर 35.44 किलोमीटर जितना लंबा होगा. इस कारिडोर के अंदर छह मेट्रो स्टेशन बनाए जाएंगे. इसमें पहले मेट्रो स्टेशन नॉलेट पार्क-2 होगा, जबकि अंतिम मेट्रो स्टेशन जेवर एयरपोर्ट होगा.

दिल्ली से ग्रेटर नोएडा के बीच चलेगी Express Noida Metro

जानकारी के मुताबिक, डीएमआरसी द्वारा ग्रेटर नोएडा के नालेज पार्क से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन तक एयरपोर्ट मेट्रो डीपीआर यमुना प्राधिकरण को सौंप दी गयी है. इस कारिडोर में कुल छह स्टेशन होंगे.

कॉरिडोर के निर्माण में 7600 करोड रुपए खर्च

बता दें की यह पूरा कोरिडोर 72.5 किलोमीटर लंबा होगा. इस कॉरिडोर के निर्माण में 7600 करोड रुपए खर्च किए जाने का अनुमान है. नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट भी कनेक्ट हो जाएगा. 37.5 किलोमीटर लंबे रूट का कुल 3.5 किलोमीटर हिस्सा अंडर ग्राउंड बनाया जाएगा, जबकि 34 किलोमीटर का हिस्सा का निर्माण एलिवेटेड रूप में होगा.

6 में से कुछ मेट्रो स्टेशन होंगे भूमिगत

डीएमआरसी के अनुसार, नालेज पार्क दो से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन तक छह स्टेशन ही प्रस्तावित किए गए हैं. पहला मेट्रो स्टेशन नालेज पार्क दो, दूसरा नोएडा सेक्टर 142, तीसरा ओखला बर्ड सेंक्चुरी, चौथा न्यू अशोक नगर, पांचवां दिल्ली गेट और अंतिम यानी छठा नई दिल्ली रेलवे स्टेशन निश्चित किया गया है.

120 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ेगी मेट्रो

डीएमआरसी की डीपीआर के अनुसार, मेट्रो ट्रैक 120 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगा. इसके लिए भी तैयारी की जाएगी. इस साल के अंत तक मेट्रो के लिए जरूरी अनापत्ति एवं अनुमति मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.