नई दिल्ली :- संयुक्त किसान मोर्चा अराजनैतिक ने आज दिल्ली के जंतर-मंतर पर किसान महापंचायत का ऐलान कर दिया है. महापंचायत के लिए अलग-अलग राज्यों से किसानों का जत्था दिल्ली के लिए रवाना हो चुका है. दिल्ली पुलिस ने इसके लिए इजाजत नहीं दी है.

10 बजे से जंतर-मंतर पर चार से पांच हजार लोगों के जुटने की संभावना

दिल्ली पुलिस ने किसानों की महापंचायत को देखते हुए ट्रैफिक एडवाइजरी जारी कर लोगों से दिल्ली के कुछ रास्तों पर जाने से बचने की सलाह दी है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि 10 बजे से जंतर-मंतर पर चार से पांच हजार लोगों के जुटने की संभावना जताई जा रही है. इस वजह से टॉल्सटॉय और संसद मार्ग पर भारी ट्रैफिक रहने की भी संभावना है. ट्रैफिक एडवाइजरी में लोगों को आउटर सर्कल कनॉट प्लेस से विंडसर प्लेस, अशोका रोड, जनपथ, बाबा खड़क सिंह मार्ग, पंडित पंत मार्ग पर जाने से बचने की सलाह दी गई है.

पुलिस और ट्रैफिक पुलिस की टीमें तैनात

बता दें की पुलिस ने लोगों को बार्डर वाले इलाकों से भी बचकर निकलने की सलाह दी है. महापंचायत के लिए किसान टीकरी, गाजीपुर, सिंघु, गुरुग्राम और झज्जर बार्डर सहित कई अन्य रास्तों से दिल्ली पहुंच रहे हैं. इसे ध्यान में रखते हुए बार्डर वाले क्षेत्र में पुलिस और ट्रैफिक पुलिस की टीमें भी तैनात कर दी गई हैं.

दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर भी सतर्कता

जानकारी के मुताबिक, यमुनापार में भी बार्डर पर पुलिस द्वारा सुरक्षा बढ़ा दी गयी है. पुलिस ने रविवार शाम को चिल्ला, गाजीपुर, अप्सरा व भोपुरा बार्डर पर बैरिकेड लगाकर वाहनों की जांच भी शुरू कर दी है. सोमवार सुबह से सुरक्षा और भी कड़ी कर दी जाएगी. वाहनों की जांच के बाद ही यूपी के वाहनों को दिल्ली में प्रवेश दिया जाएगा.

महापंचायत को पुलिस की ओर से अनुमति नहीं मिली

पुलिस ने कहा है कि जंतर-मंतर पर होने वाली महापंचायत को पुलिस की ओर से अनुमति नहीं मिली है, ऐसे में पुलिस ने यमुनापार से जुड़े उत्तर प्रदेश के बार्डर पर सुरक्षा व्यवस्था को कड़ा कर दिया है. जिला पुलिस उपायुक्त स्तर के अधिकारी स्वयं भी बार्डर की जांच कर रहे हैं.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.