नई दिल्ली :- बिजली सब्सिडी को लेकर दिल्ली के केजरीवाल सरकार द्वारा बड़ा कदम उठाया गया है. दरअसल दिल्ली सरकार जल्द ही एक फोन नंबर जारी करेगी जिस पर मिस्ड कॉल करके रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे. जिससे शहरवासियों को यह विकल्प चुनने में सुविधा होगी कि वे एक अक्टूबर से मुफ्त बिजली योजना का लाभ लेना चाहते हैं या नहीं.सभी उपभोक्ताओं को सब्सिडी से बाहर निकलने या मुफ्त बिजली प्राप्त करने का विकल्प दिया जाएगा.

बैठक में लिया गया फैसला

दिल्ली के ऊर्जा मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार संभालने वाले उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बिजली विभाग, डिस्कॉम और अन्य संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की. उन्होंने कहा कि हमने बिजली सब्सिडी के चयन की प्रक्रिया को सरल बनाने का फैसला लिया है. हम जल्द ही एक फोन नंबर जारी करने वाले हैं जहां उपभोक्ता बिजली सब्सिडी के लिए अपनी पसंद दर्ज करने के लिए मिस्ड कॉल दे सकते हैं या व्हाट्सएप पर संदेश छोड़ सकते हैं.

कैसे मिलेगी सुविधा

दिल्लीवासियों को क्यूआर (क्विक रिस्पांस) कोड के माध्यम से भी विकल्प चुनने का विकल्प उपलब्ध रहेगा. राजधानीवासियों को बिल के साथ संलग्न एक फॉर्म भरने के अलावा, बिल पर अंकित क्यूआर कोड के माध्यम से या डिस्कॉम सेंटर जाकर इस विकल्प को चुनने की सुविधा प्राप्त होगी. फिलहाल लगभग 47,11,176 परिवार बिजली सब्सिडी का लाभ उठा पा रहे हैं. सभी उपभोक्ताओं को एक अक्टूबर से सब्सिडी को छोड़ने या मुफ्त बिजली प्राप्त करते रहने का विकल्प प्रदान किया जाएगा. डिप्टी सीएम द्वारा बिजली सब्सिडी के ओप्ट-इन और ओप्ट-आउट की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए बैठक की गई. इसमें अधिकारियों को प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए निर्देश दिए गए ताकि हर नागरिक अपना विकल्प आसानी से पंजीकृत कर सके.

उपभोक्ताओं की मांग का रखा ध्यान

वर्षों से, लोगों का सुझाव रहा है कि आर्थिक रूप से मजबूत परिवारों को सब्सिडी प्रदान करने के बजाय, इस पैसे का इस्तेमाल स्कूलों और अस्पतालों के लिए किया जाना चाहिए. उनकी मांगों को ध्यान में रखते हुए ही सभी उपभोक्ताओं को 1 अक्टूबर से सब्सिडी से बाहर निकलने या मुफ्त बिजली प्राप्त करने का विकल्प प्रदान किया जाएगा.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.