नई दिल्ली :- देश की राजधानी दिल्ली में एक हजार महिलाओं को सालभर में कैब चलाने का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा. दिल्ली के उप राज्यपाल वीके सक्सेना द्वारा सोमवार को महिला कैब चालकों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम लॉन्च किया गया है. उन्होंने कहा कि इनकी मौजूदगी से दिल्ली में रहने वाली महिलाओं में सुरक्षा का अहसास बढ़ जायेगा. ट्रांसपोर्ट विभाग की इस योजना के अनुसार कैब चलाने की इच्छुक महिलाएं अब 23 दिन और 29 घंटे की ट्रेनिंग लेकर कैप ड्राइविंग में एक्सपर्ट बन सकती हैं.

लोगों को प्रधानमंत्री के विजन के अनुरूप पांच शपथ दिलाई

बता दें की दिल्ली के सराय काले खां स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग एंड ट्रैफिक रिसर्च (आईडीटीआर) में आयोजित कार्यक्रम में 50 महिला कैब चालकों के प्रशिक्षण के साथ कार्यक्रम को लॉन्च किया गया है. उपराज्यपाल सक्सेना ने बताया कि आने वाले कुछ वर्षों में दिल्ली परिवहन क्षेत्र में 50 फीसदी तक महिला ही चालक होंगी. 50 महिला चालकों ने एग्रीगेटर ब्लू स्मार्ट की इलेक्ट्रिक कारों के साथ इसकी शुरुआत कर दी है. इस मौके पर सांसद गौतम गंभीर, मुख्य सचिव नरेश कुमार और अन्य अधिकारी भी मौजूद थे. उपराज्यपाल द्वारा लोगों को प्रधानमंत्री के विजन के अनुरूप पांच शपथ भी दिलाई गयी.

कोई शुल्क नहीं लगेगा

राजनिवास के अनुसार, महिला चालकों को प्रशिक्षित करने के इस कार्यक्रम में उन्हें कोई शुल्क भुगतान नहीं करना होगा. प्रशिक्षण का काम आईडीटीआर की ओर से किया जाएगा, जबकि इस पर आने वाला खर्च परिवहन विभाग और एग्रीगेटर कंपनी की ओर से आधा-आधा वहन किया जाएगा. इस ट्रेनिंग प्रोग्राम की औपचारिक शुरुआत स्वतंत्रता दिवस के मौके पर माननीय उपराज्यपाल वी के सक्सेना द्वारा की गई है.

कैसे रहेगी ट्रेनिंग प्रक्रिया

बता दें की यह ट्रेनिंग प्रोग्राम 23 दिन का रहेगा. इसमें महिलाओं को कुल 29 घंटे की ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी. वहीं दो दिन चार-चार घंटे की थ्योरी क्लास भी लगाई जाएगी. उसके बाद 4 दिन रोज 1-1 घंटे ड्राइविंग सिम्युलेटर पर ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी. बाकी के 17 दिन रोज एक 1-1 घंटे की प्रैक्टिकल ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के परिसर और मेन सड़क पर गाड़ी चलवाकर दी जाएगी. ट्रेनिंग पूरी होने के बाद टेस्ट भी लिया जाएगा और पास होने वाली महिलाओं को ही लाइट मोटर व्हीकल का लाइसेंस भी जारी किया जाएगा. अब पहले बैच के लिए 59 महिलाओं का रजिस्ट्रेशन करवाया जा चुका है. इस साल इस योजना के अनुसार महिलाओं को कैब चलाने की ट्रेनिंग देकर रोजगार मुहैया कराने की योजना है.

By Kajal

Leave a Reply

Your email address will not be published.