रेलवे के अधिकारियों ने बुद्धिमानी दिखाते और एक जुगाड़ लगाते हुए 41 ट्रेनों में लगभग 1271 सीटें और बढ़ा ली है।इन लोगो ने रेलवे से एक एक पावरकार हटवाया और जिससे ट्रेनों में सींटे बढ़ गई। अब यात्रीयों को मिलेंगी जायदा कन्फर्म टिकटे और इन सब से रेलवे अपना आय में भी वृद्धि ला सकेगी।यह सभी ट्रेनें गोरखपुर सहित पूर्वोत्तर रेलवे के विभिन्न रूटों पर कुल 56 रेक से चलाई जा रही हैं। सीटें बढ़ने से वेटिंग लिस्ट के यात्रियों को काफी राहत मिलेगी।

पिछले चार महीने में लगभग 3.96 करोड़ लोगो ने की है यात्रा, 90 प्रतिशत से अधिक ट्रेनों का समय का पालन किया गया है।समय के बदलते रुख को देखते हुए काफी चीज बदल गई है पहले ट्रेनों में डीजल चालित दो पावरकार लगती थीं, लेकिन अब ट्रेनों के इलेक्ट्रिक इंजन के हेड आन जनरेशन सिस्टम (एचओजी) से कोचों में पावर की सप्लाई हो जा रही है। ट्रेनों की रेक में अब सिर्फ विकल्प के रूप में एक पावरकार लग रही है।मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार गाड़ियों का समय पालन भी बेहतर हुआ है। अब पूर्वोत्तर रेलवे की ट्रेनों का समय पालन 90 प्रतिशत से अधिक हो गया है। यानी, ट्रेनें समय से अपनी जगहों पर पहुंचने लगी हैं।

अब सफर के दौरान झटके काम लगेंगे, बैलेंस ड्राफ्ट गियर का प्रयोग किया जाएगा

इन ट्रेनों की एलएचबी कोचों में यात्रा के दौरान लगने वाले जर्क (झटका) को कम करने के लिए बैलेंस ड्राफ्ट गियर का प्रयोग किया गया गया है। आरामदायक सफर और अतिरिक्त सुविधाओं के चलते यात्रियों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.