यूपी के विकास में सरकार कोई कमी नहीं होने देंगी, अब पांच पिछड़े जिलों में बनने वाले है एयरपोर्ट, यात्री जल्द ही एयरबस ए-320 से हवाई सेवा का अवसर पा सकेंगे।इन एयरपोर्ट को एयरबस ए-320 के अनुसार बनने की प्लानिंग चल रही है।पांचों निर्माणाधीन एयरपोर्ट के संचालन एवं प्रबंधन के लिए एयरपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया (एएआई) के साथ अनुबंध हो चुका है।

#कौन कौन से जिले में बनने जा रहा है ये एयरपोर्ट

यह एयरपोर्ट अलीगढ़, आजमगढ़, श्रावस्ती, चित्रकूट एवं सोनभद्र में विकसित किए जा रहे हैं।अनुबंध के अनुसार प्रदेश का नागरिक उड्डयन विभाग एयरपोर्ट का पूर्ण विकास करके उसे एएआई का सौंप देगा।
बता दे की एयरबस ए 320 दोहरे इंजन वाले विमान होते है ,जो 320 यात्री एक बार में बैठा कर उड़ान भर सकते है।
ऐसा मानना है की जो एयरपोर्ट का निर्माण होने जा रहा है वह भविष्य की जरूरतों को पूरा करने में सक्षम होंगे।

# कैसे क्षेत्रों में स्थापित हो रहे हैं यह 5 एयरपोर्ट

यूपी सरकार का कहना है कि सभी पांचों एयरपोर्ट ऐसे क्षेत्रों में स्थापित हो रहे हैं जो विकास की दौड़ में पीछे छूट गए थे। श्रावस्ती, सोनभद्र और चित्रकूट तो आकांक्षात्मक जिले हैं। इन जिलों से एयर कनेक्टिविटी होने से विकास को नए पंख लगेंगे।
इसमें श्रावस्ती बौद्ध इतिहास से जुड़ा है तो चित्रकूट रामायण इतिहास से। इसी तरह अलीगढ़ प्रस्तावित डिफेंस कॉरिडोर का हिस्सा है, जहां अभी एयरपोर्ट की सख्त जरूरत महसूस की जा रही है।

राज्य में नए एयरपोर्ट का निर्माण केंद्र सरकार की ‘उड़ान’ योजना के अंदर किया जा रहा है।
वर्ष 2017 से पहले राज्य में मुख्य रूप से लखनऊ और वाराणसी में ही एयरपोर्ट थे। गोरखपुर और आगरा में आंशिक रूप से क्रियाशील एयरपोर्ट थे। तब इन चार एयरपोर्ट से मात्र 25 स्थानों के लिए हवाई सेवा उपलब्ध थी। आज प्रदेश में नौ एयरपोर्ट क्रियाशील हैं और 75 स्थानों के लिए हवाई सेवा की सुविधा है और काम रुका नहीं है बल्कि इन 5 जिलों में एयरपोर्ट बनकर जल्द तैयार हो जायेगा ।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.