उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग द्वारा 23 जुलाई को अनाउंस बिजली की नई दरें चार अगस्त से चालू हो जाएंगी। बिजली की नई दरों संबंधी सार्वजनिक सूचना गुरुवार को अखबार में छपा था।

सूत्रों से पता चला की उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष एम. देवराज ने कहा है कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए आयोग द्वारा अनुमोदित रेट शेड्यल की सार्वजनिक सूचना गुरुवार को बता दी गई है।

सार्वजनिक सूचना प्रकाशित होने के सात दिन बाद नई दरें प्रभावी होती हैं। ऐसे में आयोग का नया टैरिफ ,चार अगस्त से राज्य में लागू होने की संभावना है। एम. देवराज ने बताया कि इस संबंध में बिलिंग साफ्टवेयर आदि में बदलाव की तैयारी हो गई है ताकि उपभोक्ताओं को किसी तरह की दिक्कत न हो।

एक और खुशखबरी है अब इस वर्ष बिजली इसी दाम में रहेगी और महंगा होने की संभावना नहीं है। पिछले शनिवार को जो घोषित हुआ है उससे लोगो को राहत ही मिली है।घोषित टैरिफ में बिजली की दरें तो स्थिर रही गई हैं लेकिन स्लैब 80 से 59 किए जाने से ज्यादातर श्रेणियों के उपभोक्ताओं को कुछ न कुछ राहत ही मिली है। इससे बड़ी संख्या में घरेलू और वाणिज्यिक उपभोक्ताओं के बिजली के मौजूदा खर्चे में कमी आएगी।

 

अब नए दर में सौ यूनिट से कम और पांच सौ यूनिट से जायदा बिजली का इस्तेमाल करने वालो का बिजली बिल घटना पक्का है।1.39 करोड़ गरीबों की बिजली और सस्ती हो जाएगी। एनपीसीएल के उपभोक्ताओं को तो बिजली के बिल में सीधे तौर पर 10 प्रतिशत की छूट मिलने लगेगी।इन सब से लोगो को बड़ी राहत मिलेगी।

 

शहरी घरेलू उपभोक्ताओं की प्रति यूनिट बिजली दर (रुपये में)

वर्तमान दर – नई दर
यूनिट – दर – यूनिट – दर
000-150 – 5.50 000-100 – 5.50
151-300 – 6.00 101-150 – 5.50
301-500 – 6.50 151-300 – 6.00
500 के ऊपर-7.00 300 के ऊपर-6.50

 

 

ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं की प्रति यूनिट बिजली दर (रुपये में)

यूनिट – दर – यूनिट – दर
000-100 – 3.35 000-100 – 3.35
101-150 – 3.85 101-150 – 3.85
151-300 – 5.00 151-300 – 5.00
300 के ऊपर-6.00 300 के ऊपर-5.50

 

ग्रामीण लोगो के लिए भी राहत है, 5.50 रुपए यूनिट हुई बिजली,

 

जिस तरह से शहरी घरेलू उपभोक्ताओं की बिजली अब अधिकतम 6.50 रुपये यूनिट ही होगी उसी तरह ग्रामीण उपभोक्ताओं को बिजली के लिए अधिकतम 5.50 रुपये यूनिट ही देना होगा। शहरी उपभोक्ताओं के सात रुपये यूनिट के साथ ही गांव के छह रुपये यूनिट वाला स्लैब भी आयोग ने खत्म कर दिया है। लेकिन गांव में जिन घरों में मीटर नही लगा है उन्हे 500 रुपए ही प्रतिमाह देना होगा।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.