आने वाले समय में रेलवे के द्वारा देश के विभिन्न रेलवे स्टेशनों का आधुनिकरण किया जाएगा और इसके लिए केंद्र सरकार के द्वारा योजनाएं संचालित की जा रही है। इन योजनाओं में माडल स्टेशन स्कीम, मार्डन स्टेशन स्कीम और आदर्श स्टेशन स्कीम शामिल हैं। केंद्र सरकार की इन योजनाओं के अंतर्गत देश के कई छोटे बड़े रेलवे स्टेशनों का अपग्रेडेशन और आधुनिकरण का काम किया जा रहा है। यह जानकारी रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने लोकसभा में दी है।

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि कई तरह की योजनाओं को रेलवे और रेलवे स्टेशन के विकास के लिए शुरू किया जाने वाला।स्टेशनों का अपग्रेडेशन और आधुनिकीकरण आदर्श स्टेशन योजना के तहत किया जा रहा है। ताकि स्टेशनों पर यात्रियों को बेहतर सुविधाएं दी जा सकें।आदर्श स्टेशन योजना के तहत विकास के लिए कुल 1,253 रेलवे स्टेशनों को चयनित किया गया है। अभी तक कुल 1,215 रेलवे स्टेशनों को विकसित किया जा चुका है। वहीं, बाकि बचे 38 स्टेशनों के विकास के लिए वित्तीय वर्ष 2022-23 में लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

अश्विनी वैष्णव ने बताया कि सरकार ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन, गांधीनगर रेलवे स्टेशन और सर एम विश्वेश्वरैया टर्मिनल जैसे तीन रेलवे स्टेशनों को विकसित कर वहां से संचालन शुरू कर दिया है। वहीं अयोध्या, गोमतीनगर, बिजावासन, सफदरजंग और तिरुपति स्टेशनों पर विकास का काम चल रहा है।हाल ही में गया, उधना, सोमनाथ और एर्नाकुलम जंक्शन स्टेशनों के पुनर्विकास के लिए काम आवंटित किया गया है। आपको बता दें कि इन सभी स्टेशनों पर विशेष सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी और साथ ही साथ रेल यात्रियों को किसी भी तरह की परेशानी ना हो इस बात का भी खास ख्याल रखा जाएगा।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.