घरौनी प्रमाण पत्र मिलने से ग्रामीणों को बैंको से लोन प्राप्त करना बेहद आसान हो जाएगा। वहीं अन्य आवश्यक सेवाओं को हासिल करने में भी घरौनी के दस्तावेज उनके उपयोग में आ सकेंगे।राज्य सरकार स्वामित्व योजना के अंतर्गत सभी 75 जिलों में घरौनियां तैयार किए जाने का काम बड़ी तेजी से जारी है।

सीएम योगी आदित्यनाथ 25 जून को स्वामित्व योजना के तहत 10,81,062 ग्रामीणों को डिजिटल जरिए से उनके आवास का मालिकाना अधिकार दिलाने वाला ग्रामीण आवासीय अभिलेख यानी घरौनी ग्रामीणों को प्रमाण पत्र सौंपे जाएंगे। घरौनी प्रमाण पत्र प्राप्त हो जाने से ग्रामीणों को बैंकों से लोन मिलना बेहद आसान हो जाएगा। अन्य आवश्यक सेवाओं को प्राप्त करने के करने में भी घरौनी के दस्तावेज उनके कई काम आ सकते है।राज्य सरकार स्वामित्व योजना के अंतर्गत सभी 75 जिलों में घरौनियां तैयार किए जाने का काम शीघ्रता से हो रहा है।

वही अभिलेखों को तैयार करने के लिए 1,10,313 ग्रामों को चिन्हित किया जा चुका है। स्वामित्व योजना के अंतर्गत 20 जून से प्रदेश के कुल 68 641 ग्रामों में ड्रोन सर्वे का कार्य सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया है।23287 ग्रामों में कुल 3428305 घरौनियां तैयार हो की जा चुकी है। योजना के अंतर्गत ग्रामीण अभिलेखों का निर्माण हो जाने पर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति संबंधी विवाद बहुत हद तक कम हो जाएंगे। स्वामित्व का अभिलेख तैयार हो जाने से न्यायालय में चल रहे विवादों का निस्तारण जल्द से जल्द संभव होगा।

आबादी क्षेत्र का प्रारंभिक डाटा मिलने पर सरकार विकास की योजनाओं को बेहद आसानी से संचालित किया जा सकेगा। राज्य सरकार स्वामित्व योजना के अंतर्गत प्रदेश में 23 दिसंबर 2021 तक 5 चरणों में कुल 15940 ग्रामों में 23,47,243 घरौनियों का वितरण की जा चुकी है।

 

 

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.