अब दिल्ली में 15 साल से ज्यादा पुरानी पेट्रोल कार के पंजीकरण की अनुमति नहीं दी जाएगी। दरअसल दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली-NCR में 15 साल से ज्यादा पुरानी पेट्रोल कार के पंजीकरण के नवीनीकरण की अनुमति देने से इनकार कर दिया है।

अदालत ने इजाजत देने से किया इंकार

सुप्रीम कोर्ट और राष्ट्रीय हरित अधिकरण द्वारा पारित आदेशों के मद्देनजर अदालत ने ऐसे वाहन के रजिस्ट्रेशन के रिन्युवल की इजाजत देने से इनकार किया है। न्यायमूर्ति संजीव सचदेवा ने कहा कि दिल्ली सरकार की नीति के मुताबिक, अनापत्ति प्रमाणपत्र प्राप्त कर याचिकाकर्ता द्वारा वाहन का नवीनीकरण कराया जा सकता है। जिन्हे NGT और सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के तहत अनुमति प्रदान की गई है।

15 साल पुराने पेट्रोल वाहन के नवीनीकरण की मांग नही कर सकता

NGT और सुप्रीम कोर्ट द्वारा पारित इन आदेशों को देखते हुए याचिकाकर्ता दिल्ली-एनसीआर में 15 साल पुराने पेट्रोल वाहन के पंजीकरण के नवीनीकरण की मांग नहीं कर सकता है।

कोर्ट ने खारिज की याचिका

याचिकाकर्ता द्वारा अदालत से राहत मांगी गई थी। अदालत ने राहत देने से इनकार करते हुए याचिका खारिज कर दी। अदालत का आदेश एक व्यक्ति की ओर से दायर उस याचिका पर आया, जिसमें दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग द्वारा 15 साल से अधिक पुराने पेट्रोल वाहनों के पंजीकरण के नवीनीकरण के संबंध में जारी एक सार्वजनिक नोटिस को मनमाना करार देने का अनुरोध किया गया था।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.