दिल्ली परिवहन विभाग ने व्यावसायिक वाहनों का फिटनेस जुर्माना काफी बढ़ा दिया है। यानी वाहन की फिटनेस लेकर अगर कोई लापरवाही करता है तो उसे जुर्माने के तौर पर मोटी राशि देनी होगी। कोरोना के चलते दो साल से यह राशि माफ की गई थी। यह व्यवस्था एक अप्रैल से बदली है। जिसके तहत आटो की एक दिन फिटनेस लेट हो जाने पर एक बार में 2500 रुपये लगेंगे।वहीँ प्रतिदिन 20 रुपये के हिसाब से चार्ज होगा। इसके अलावा टैक्सी, ग्रामीण सेवा, फटफट सेवा आदि पर एक बार में 5000 लगेंगे। उसके बाद प्रतिदिन 20 रुपये के हिसाब से लगेंगे।

अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे आटो टैक्सी चालक

दिल्ली की विभिन्न आटो यूनियन ने इसका विरोध किया है। आटो यूनियन के नेता राजेंद्र सोनी, उपेंद्र सिंह व किशन वर्मा आदि ने इस बारे में दिल्ली सरकार से पुन:विचार करने की मांग की है। उधर, इस बाबत दिल्ली परिवहन विभाग के एक अधिकारी का कहना है कि केंद्र सरकार के आदेश से यह व्यवस्था लागू की गई है। इस नियम को लेकर ग्रामीण सेवा के नेता चंदू चौरसिया ने कहा है कि उन्होंने इस बारे में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के सामने समस्या रखी है। 11 अप्रैल को नया सचिवालय पावर हाउस आइटीओ पर आल दिल्ली आटो टैक्सी ट्रांसपोर्ट कांग्रेस यूनियन का इन सब समस्याओं को लेकर संयुक्त तौर पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन तय हुआ है। इस मामले में यूनियन का कहना है कि दिल्ली के आटो टैक्सी चालक 18 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे।

वाहन मालिक को दिया जायेगा टेस्ट रिजल्ट का नया फार्मेट

वाहनों के फिटनेस टेस्ट को लेकर और वाहनों को अनफिट घोषित करने के नियमों को लेकर बदलाव किए गए हैं। इसके तहत अब नए उपकरणों को शामिल किया गया है जिससे इलेक्ट्रिक वाहनों की जांच किया जा सके। इससे टेस्ट रिजल्ट के और भी सटीक और सही आने की संभावना है। वहां मालिक को इसके द्वारा टेस्ट रिजल्ट का नया फार्मेट दिया जायेगा, जिससे वाहन मालिकों को इसे लेकर कोई आशंका नहीं रहेगी।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.