दिल्ली मेट्रो ने अपने नेटवर्क के विस्तार के तहत 52 नयी ड्राइवरलेस ट्रेनों का शरुवात  करने की योजना बनाई है। ड्राइवरलेस ट्रेन ऑपरेशन का मतलब है कि ट्रेनों का संचालन बिना ड्राइवर  के बिना होगा। दिल्ली मेट्रो रेल नियम के अधिकारियों ने सोमवार को इसकी जानकारी दी। इन ट्रेनों जिनमे 312 मेट्रो कोच होंगे। डीएमआरसी के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि ड्राइवरलेस नई ट्रेनों को चौथे चरण में आने वाली सिल्वर लाइन सहित सभी नई लाइनों पर चलाया जाएगा ।

डीएमआरसी के अधिकारियों के मुताबिक 39 ट्रेनें मौजूदा पिंक लाइन (मजलिस पार्क-शिव विहार) और मैजेंटा लाइन (बॉटैनिकल गार्डन-जनकपुरी पश्चिम) के लिए होंगी जबकि शेष ट्रेनें सिल्वर लाइन अथवा लाइन-10 के लिए होगी। वहीं लाइन-10 का निर्माण एयरोसिटी और तुगलकाबाद के बीच किया जा रहा है।

वही भारत की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो की बात करें तो इसका संचालन पीएम मोदी ने 28 दिसंबर 2020 को भारत की पहली चालक रहित ट्रेन के रूप में हरी झंडी दिखाकर ऊद्धघाटन किया था। इसके अलावा बता दें खरीदी जाने वाली सभी 52 ट्रेने यूटीओ मोड ट्रेनें होंगी।इसके अलावा 59 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन यानी लाइन 7 पर चालक रहित ट्रेन का संचालन पिछले साल 25 नवंबर से शुरू किया गया था जो डीएमआरसी के इतिहास में एक और मील का पत्थर साबित हुई है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.