अब दिल्ली और हरियाणा से करीब ढाई घंटे में देहरादून का सफर तय कर सकेंगे। जी हां बता दें भारत माला सडक़ परियोजना के अंतर्गत अब एक और बड़ा हाईवे बनाने का निर्णय लिया गया है। इस हाईवे के बनने से चार प्रदेशों को आपस में जोड़ा जा सकेगा इतना ही नहीं इस नए हाइवे से 6 घंटे का सफर केवल ढाई घंटे में तय किया जा सकेगा। इस हाईवे के निर्माण में केंद्र सरकार करीब 18000 करोड़ रुपए खर्च करेगी। बता दें एनजीटी द्वारा इस हाईवे निर्माण के लिए मंजूरी दे दी गई है। जिसके तहत अब जल्द से जल्द काम शुरू होने की संभावना है जिसकी तैयारी की जा चुकी हैं।

इस महत्पूर्ण सड़क परियोजना से बेहद लाभ मिलने वाला है। भारतमाला सडक़ परियोजना के तहत इस हाईवे का निर्माण किया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट की नीव 4 दिसंबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी थी। इस रोड पर हाई स्पीड से सफर किया जा सकेगा। यह रोड पूरी तरह से आधुनिक होगी। इस हाईवे के बनने से 6 घंटे की दूरी महज ढाई से तीन घंटे में पूरी की जा सकेगी।

यानि कि दिल्ली-एनसीआर और हरियाणा के लोग अगर उत्तराखंड के लिए सफर करते हैं तो इस हाईवे के बनने से आरामदायक और तेज स्पीड यात्रा किया जा सकेगा। इस परियोजना के लिए एक कमेटी गठित की गई हैं और वहीं एनजीटी द्वारा कई शर्ते भी लगाई गई है। बता दें इस हाईवे के निर्माण के लिए एनजीटी ने शुरुआत में रोक लगा दिया था जिसकी वजह हाईवे के निर्माण के लिए काफी संख्या में काटे जाने वाले पेड़ हैं, जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुंच सकता है। पंरतु अब एनजीटी ने अनेक शर्तों के साथ इस हाईवे के निर्माण को स्वीकृति प्रदान कर दी है।

दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेसवे की निगरानी का काम एनजीटी ने NHAI को सौंपा है। एनजीटी का कहना है कि इस निर्माण में पर्यावरण को किसी भी तरह का कोई भी हानि नहीं पहचुना चाहिए।

 

 

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.