सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की वाहनों के बारे में हाल ही में एक बार फिर एक बड़ी जानकारी सामने आई है। बता दें सड़क परिवहन एवम राज्यमंत्रालय द्वारा भारत स्टेज-6 उत्सर्जन मानक वाले वाहनों को ऑटो एलपीजी और सीएनजी में बदलने को लेकर इंडियन ऑटो एलपीजी कोअलिशन ने सवाल उठाएं हैं।

आईएसी ने मंत्रालय को लिखा पत्र

इसको लेकर आईएसी ने अपने बयान में कहा कि मंत्रालय की ओर से अधिसूचना के अनुसार बीएस-6 वाहनों को एलपीजी और सीएनजी में बदलने के लिए दुर्घटना टेस्ट और सेवा में अनुरूपता होना जरूरी है। उनका कहना है की राज्यमंत्रालय व सड़क परिवहन द्वारा यह अधिसूचना पूरी तरह अनप्रैक्टिकल है। आईएसी ने इस बारे में अपनी आपत्तियों से अवगत कराने के लिए मंत्रालय को पत्र लिखा है।

कई मुद्दों पर जताई आपत्ति

आईएसी द्वारा लिखे गए मंत्रालय के पत्र में कई मुद्दों पर आपत्ति जताई गई है। पत्र के मुताबिक, अधिसूचना में वाहन किस्म की मंजूरी के लिए वैधता की सीमित अवधि को बनाए रखा गया है। इसके अलावा दुर्घटना परीक्षण को भी अनिवार्य किया गया है।

आने वाले दो वर्षों में इलेक्ट्रिक कार की कीमत होगी पेट्रोल डीजल के कारों की तरह:-

पेट्रोल और डीजल बढ़ती कीमतों से आम उपभोक्ता बेहद परेशान है। ऐसे में सीएनजी वाहन व इलेक्ट्रिक कारों के जरिए लोगो को राहत है। इलेक्ट्रिक कारों की कीमत की बात करें तो इसकी कीमत काफी ज्यादा है, जो आम ग्राहक की पहुंच से बाहर है। वहीं केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक कारों पर सब्सिडी दी जा रही है इसलिए इनकी बिक्री भी अधिक हो रही है। सरकार कहना है कि आने वाले दो वर्षों में पेट्रोल व डीजल से चलने वाली के तरह ही इलेक्ट्रिक कारों की कीमत हो जाएगी।

सीएनजी और एलक्ट्रिक कारों में सीएनजी बेहतर

मौजूदा समय में सीएनजी कार की कीमत एलक्ट्रिक कार से कम है। भारतीय ग्राहकों के लिए सीएनजी कार पहली पसंद बनती है। क्योंकि मौजूदा समय में सीएनजी कारें एलक्ट्रीक कार से सस्ती पड़ती है।

सीएनजी कार है काम खर्चीली

अगर सीएम और इलेक्ट्रिक कार के बीच किफायती की बात करें तो सीएनजी कार इलेक्ट्रिक कार से कम खर्चीली है। क्योंकि सीएनजी कार करीब 30 किमी प्रति किलोग्राम तक का माइलेज देती हैं। वहीं दिल्ली में इसकी कीमत करीब 53 रुपये प्रति किलोग्राम है। अगर सीएनजी कार की तुलना पेट्रोल-डीजल की कार से करें तो CNG कार पर आने वाले खर्च बहुत कम है।

इलेक्ट्रिक कार पेट्रोल कार से महंगा

बात अगर इलेक्ट्रिक कार के रेंज की करे तो अभी देश में ज्यादातर इलेक्ट्रिक कारें प्रीमियम या 10 लाख के रेंज में उपलब्ध हैं। देश में सबसे अधिक बिकने वाली इलेक्ट्रिक कार टाटा नेक्सों ईवी है इसकी कीमत 14.24 लाख है। इसके पेट्रोल वर्जन की बात करें तो इसकी कीमत 7.29 लाख रुपये से शुरू होती है। फिलहाल Electric कार पेट्रोल कार से थोड़ा महंगा है।

 

 

 

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.