Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /home/express1/public_html/wp-content/plugins/og/includes/iworks/class-iworks-opengraph.php on line 331

पुरे झारखण्ड में मंगलवार को 6.43 प्रतिशत पॉजिटिविटी के हिसाब से लगभग 4719 मरीज मिले जिसमें 9.83 प्रतिशत पॉजिटिविटी की दर से रांची में 1592 मरीज मिले हैं। राज्य के 8 जिलों में मंगलवार को 100 से अधिक मरीज मिले जिसमें रांची के अलावा पूर्वी सिंहभूम में 1160, हजारीबाग में 265, देवघर में 232, बोकारो 189, चतरा 111, धनबाद 158 व पलामू में 139 मरीज मिले हैं।

रिम्स ओपीडी कबसे रहेगा बंद से रहेगा बंद

झारखण्ड के सबसे बड़े हॉस्पिटल रिम्स में दूर दूर से लोग अपना इलाज करवाने आते हैं। पर कुछ समय से डॉक्टर और हॉस्पिटल के स्टाफ ही कोरोना संक्रमित होते जा रहे हैं। 12 जनवरी से अगले आदेश तक सेकेंड हाफ ओपीडी को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। ऐसे में डॉक्टर मरीजों को सिर्फ फर्स्ट हाफ में ही देखेंगे और तो और अगर कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता रहा तो ओपीडी को पूरी तरह से बंद करने का भी निर्णय लिया जा सकता है। यह जानकारी रिम्स के सर्जन सह पीआरओ डॉ डीके सिन्हा ने दी। उन्होंने यह भी कहा कि सभी एचओडी के साथ बैठक करने के बाद ही सेकेंड हाफ ओपीडी को बंद कर दिया गया है।

एक कोरोना संक्रमित की मौत

रांची रिम्स में मंगलवार को फिर कोरोना संक्रमण से एक 78 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। कोरोना संक्रमित मरीज खीरू महतो का रिम्स के डेंगू वार्ड में इलाज चल रहा था। वह हजारीबाग का ही रहने वाला था। वह न्यूरो वार्ड में थे जहां पर उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे डेंगू वार्ड में शिफ्ट किया गया था। उनके परिवार वालों ने बताया की उन्हें सिर्फ न्यूरो संबंधी बीमारी थी जिसका इलाज डॉक्टर सीबी सहाय कर रहे थे और कोरोना के कोई भी लक्षण उनमे नहीं थे पर भर्ती होने के कुछ समय बाद उन्हें कोरोना हो गया। और न्यूरो के इलाज के साथ साथ कोरोना का भी इलाज चलने लगा। यह बता दें कि अब तक एक सप्ताह में रांची में इलाजरत चार संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

लगभग 100 लोगों ने 5 जिलों से नहीं ली कोरोना बूस्टर की डोज़ 

हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाईन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक उम्र के बीमार लोगों के लिए शुरू हुए टीकाकरण के बूस्टर डोज की रफ्तार दूसरे दिन भी झारखंड में काफी धीमी रही। पहले दिन राज्य भर में 6006 लोगों को तो दूसरे दिन मंगलवार को 8934 लोगों को बूस्टर डोज के रूप में टीके की तीसरी खुराक दी गयी।

पांच जिलों में तो बूस्टर डोज लेने वालों की संख्या 100 के आंकड़े को भी पार नहीं कर सकी। सिमडेगा में 27, सरायकेला में 44, जामताड़ा में 55, कोडरमा में 79 लोगों को बूस्टर डोज लगायी गयी।

Author

  • Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

By Abhishek Raj

Abhishek Raj Is Journalist & Edtior Of Expresskhabar.in , Abhishek Raj writing news, views, reviews and interviews with expresskhabar.in.

Leave a Reply

Your email address will not be published.