खुले बाजार से भी जुड़ेगें: उद्योग लगाने वाली संस्थाओं से जुड़े युवाओं के उत्पादों को बाजार से जोडऩे के लिए भी सहायता दी जाती है। हाल ही में बनाई गई खादी ग्रामोद्योग विकास एवं सतत स्वरोजगार प्रोत्साहन नीति के तहत पूंजी निवेश के साथ ही रोजगार सृजन में युवाओं को जोडऩे का कार्य किया जा रहा है।

प्रदेश सरकार की ओर से खादी की नई नीति बनाई गई है जिसके माध्यम से युवाओं को स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। रोजगार सृजन और नए अवसरों की संरचना बनाने के साथ ही वित्तीय प्रोत्साहन भी दिया जाएगा। प्रधानमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना, पं.दीनदयाल उपाध्याय खादी विपणन विकास सहायता और व्यवहारिक प्रशिक्षण योजनाओं के माध्यम से युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है। ऑनलाइन कारोबार से खादी के विकास में युवा योगदान कर सकते हैं। -एलके नाग, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी

Edited By:- Abhishek