• कार व अन्य छोटे वाहन 95 115 140
  • हल्के वाणिज्यिक वाहन 150 190 225
  • दो एक्सल वाले बस-ट्रक 315 395 470

इंदिरापुरम से रसूलपुर सिकरोड भोजपुर काशी प्लाजा

  • कार व अन्य छोटे वाहन 50 70 95
  • हल्के वाणिज्यिक वाहन 75 115 150
  • दो एक्सल वाले बस-ट्रक 160 245 320

डूंडाहेड़ा से रसूलपुर सिकरोड भोजपुर काशी प्लाज

  • कार व अन्य छोटे वाहन 30 55 75
  • हल्के वाणिज्यिक वाहन 45 85 120
  • दो एक्सल वाले बस-ट्रक 100 180 255

डासना से रसूलपुर सिकरोड भोजपुर काशी प्लाजा

  • कार व अन्य छोटे वाहन 15 40 60
  • हल्के वाणिज्यिक वाहन 25 65 100
  • दो एक्सल वाले बस-ट्रक 55 135 210

 

काशी प्लाजा से सराय काले खां इंदिरापुरम डूंडाहेड़ा डासना सिकरोड भोजपुर

कार व छोटे वाहन 140 95 75 60 45 20

हल्के वाणिज्यिक वाहन 225 150 120 100 75 35

दो एक्सल वाले बस-ट्रक 470 320 255 210 155 75

आरओबी की वजह से टला टोल टैक्स वसूली का निर्णय

गौरतलब है किदिसंबर महीने से ही दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे के बीच टोल की वसूली शुरू होनी थी। टोल लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद 25 दिसंबर से ही टोल वसूली शुरू होनी थी, लेकिन एक्सप्रेस-वे से जुड़ा आरओबी प्रोजेक्ट पूरा नहीं होने के चलते टाल दिया गया था। दरअसल एक्सप्रेस-वे के दूसरे चरण में अलीगढ़ रेललाइन पर चिपियाना गांव के पास आरओबी बनाने का काम पूरा नहीं हुआ था, जिससे यातायात प्रभावित होता है। ऐेस में एक्सप्रेस-वे का पूरा यातायात सामान्य नहीं हो जाता तब तक टोल वसूली नहीं हो सकती है।