Rohit Sharma Life Story: भारतीय टीम के कप्तान हिटमैन रोहित शर्मा ने अपनी जिंदगी में बहुत सी चुनौतीयों का सामना किया है. रोहित शर्मा के घर के आर्थिक हालात पहले बहुत ही खराब थे. आपको बता दूँ की रोहित का जन्म 30 अप्रैल 1987 को बंसोड़, नागपुर, महाराष्ट्र के मध्यबर्ती हिन्दू परिवार में हुआ था. रोहित शर्मा के पिता का नाम गुरुनाथ शर्मा है जो एक परिवहन कंपनी भंडार में नोकरी किया करते थे और उनकी माता का नाम पूर्णिमा शर्मा है जो एक पेशे से घृहिणी की जिंदगी जीती है.

रोहित का जीवन दादा-दादी की छाया में पला था. वैसे रोहित शर्मा को बचपन से क्रिकेट खेलना बहुत ज्यादा पसंद था. हिटमैन को अक्सर गली क्रिकेट खेलना बहुत ज्यादा अच्छा लगता था. इसी को देखते हुए रोहित को 6ठी कलश में एक बार स्थानीय क्लब में क्रिकेट खेलने का चांस मिला था.

उस समय रोहित बल्ले और गेंद दोनों में अपना हाथ अजमाते थे. क्योकि रोहित शेम गली क्रिकेट में ऑफ स्पिन गेंदबाजी करने में माहिर थे. जिसके चलते रोहित शर्मा के स्कूल कोच दिनेश लाड को इसमें एक बड़े खिलाड़ी बनने के पीछें की सारे गुण भाप लिए थे. इसके बाद रोहित को 1999 में अंडर -12 क्रिकेट टूर्नामेंट में खेलने का मौका मिला था.

इसके बाद रोहित शर्मा ने पीछें मुड़कर नही देखा और नेट दिन रात मेहनत करते चले गए. इसके बाद एक के बाद बड़ी-बड़ी टूर्नामेंट में खेलने का मौका मिला. रोहित का हमेशा से एक ही सपना था की वह भारत के लिए अपने खेल के जरिये अपने देश नाम रोशन करे.

Author

By Shujaz Chithara

Journalist Of Express Khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *