पंकज त्रिपाठी आज सिनेमा की दुनिया का अहम हिस्सा बन चुके है, पंकज त्रिपाठी की गिनती सिनेमा के मंझे हुए कलाकारों में होती है जो अपने अभिनय से किसी किरदार में जान फूंक देते हैं, चाहे वो माधव मिश्रा का किरदार हो या फिर कालीन भईया का, या फिर गैंग्स ऑफ वासेपुर के सुल्तान मिर्जा का हर किरदार में उन्होंने एक अलग जान फूंक दी हैं।

हाल ही में पंकज त्रिपाठी की फिल्म ‘शेरदिल: द पीलीभीत सागा’ का ट्रेलर रिलीज हुआ है, जिस पर लोग जमकर प्यार बरसा रहे हैं. पंकज त्रिपाठी के बारे में लोग अधिक से अधिक जानना चाहते हैं. अगर आप भी पंकज त्रिपाठी के फैन हैं तो आज की इस पोस्ट में हम आपको उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में बताने जा रहे हैं.

हाल ही में हुए IIFA अवार्ड्स 2022 के दौरान पंकज त्रिपाठी अपने परिवार संग पहुंचे थे जहां उनकी बेटी आशी त्रिपाठी ने लाइमलाइट चुरा ली. सोशल मीडिया पर आशी की कई तस्वीरें वायरल हुईं जिनमें वह ब्लू कलर के गाउन में नजर आ रही थीं. वहीं अब पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi) ने भी अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट से कुछ तस्वीरें शेयर की हैं जिनमें वह अपनी पत्नी मृदुला और बेटी आशी के साथ नजर आ रहे हैं.

पंकज त्रिपाठी का जन्म

पंकज त्रिपाठी का जन्म 28 सितंबर 1976 को भारत के बिहार राज्य में गोपालगंज जिले के बेलसंड गाँव (बरौली ब्लॉक) में एक सनातनी हिंदू ब्राह्मण परिवार में हुआ।

इनके पिता पंडित बनारस त्रिपाठी और माता हेमवंती त्रिपाठी है। पंकज 6 बच्चों में सबसे छोटे हैं। उनके पिता एक किसान और पुजारी के रूप में काम करते हैं। इन्होंने वर्ष 2004 में मृदुला से विवाह किया और उनकी एक बेटी भी है, जिसका नाम आशी त्रिपाठी है।

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा गोपालगंज के डीपीएच स्कूल में की। त्रिपाठी ने अपने पिता के साथ 11वीं कक्षा तक स्कूल में एक किसान के रूप में भी काम किया। हाई स्कूल के बाद वे पटना चले गए जहाँ उन्होंने इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट, हाजीपुर में पढ़ाई की। उन्होंने थिएटर किया और कॉलेज की राजनीति में सक्रिय रहे। पटना में लगभग सात साल रहने के बाद वह राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय में दाखिला लेने के लिए दिल्ली चले गए। जहाँ से उन्होंने 2004 में स्नातक की उपाधि प्राप्त की।

पंकज त्रिपाठी शादी 

पंकज की मुलाकात 1993 में एक शादी समारोह के दौरान मृदुला से हुई थी। उस समय मृदुला नौवीं कक्षा में पढ़ रही थी और पंकज ग्यारहवीं कक्षा में था। पंकज को पहली नजर में ही मृदुला से प्यार हो गया था। पंकज और मृदुला को अपने माता-पिता को शादी के लिए राजी करना पड़ा क्योंकि पंकज की बहन की शादी मृदुला के भाई से हुई थी और एक ही परिवार में शादी उनकी जाति के खिलाफ थी। बहुत प्रयास के बाद इस जोड़े ने 15 जनवरी 2004 को शादी कर ली। वे अपनी शादी के बाद मुंबई चले गए और 2006 में इनकी आशी त्रिपाठी नाम की एक बेटी हुई।

पंकज त्रिपाठी का फिल्मी सफर 

त्योहारों के मौसम में वह अपने गाँव के नाटक में एक लड़की की भूमिका निभाते थे। जिसे ग्रामीणों ने सराहा और अंततः उन्हें अभिनय से अपना करियर बनाने के लिए प्रेरित किया। अभिनय में असफलता के डर से उन्होंने पटना के मौर्य होटल में भी कुछ समय के लिए काम किया। जहाँ उनका सामना उनके आदर्श मनोज बाजपेयी से हुआ।

पंकज त्रिपाठी एक भारतीय अभिनेता हैं जोकि मुख्य तौर से हिंदी सिनेमा में सक्रिय हैं। वह अपने प्राकृतिक अभिनय शैली के लिए प्रसिद्ध हैं।पंकज लोगो की नजरो में तब आये जब उन्होंने ने फिल्म “गैंग्स ऑफ वासेपुर” में अपनी सहायक भूमिका के साथ प्रसिद्धि प्राप्त की , जिसमें उन्होंने ‘सुल्तान’ की भूमिका निभाई थी ।

Author

By Shujaz Chithara

Journalist Of Express Khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *