हिमाचल प्रदेश के लिए विजय हजारे ट्रॉफी जीतने वाले युवा क्रिकेटर सिद्धार्थ शर्मा ने दुनिया को अलविदा कह दिया है। ये खिलाड़ी मात्र 28 साल का था। मौजूदा समय में रणजी ट्रॉफी खेली जा रही है और सिद्धार्थ हिमाचल की टीम के सदस्य भी थे। लेकिन लंबी बीमारी के चलते इस खिलाड़ी को बेहद छोटी सी उम्र में दुनिया से जाना पड़ा है।

लंबे समय से थे बीमार

बता दें कि सिद्धार्थ लंबे समय से बीमार थे। पिछले 2 हफ्ते से वो बीमार होने के चलते खेल से दूर थे और उनको एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। बीच में उनके ठीक होने की खबर भी मिली थी। लेकिन अचानक इस खिलाड़ी का स्वास्थ एक बार फिर से बिगड़ गया। बता दें कि सिद्धार्थ ने गुजरात के वडोदरा में अंतिम सांस ली। वो रणजी का मैच खेलने के लिए वहां गए थे।

सीएम ने भी वयक्त किया शोक

सिद्धार्थ के गुजरने के बाद हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने भी शोक वयक्त किया है। हिमाचल प्रदेश के सीएमओ ने ट्वीट करते हुए लिखा, ”मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने हिमाचल की विजय हजारे ट्रॉफी विजेता क्रिकेट टीम के सदस्य रहे और प्रदेश के स्टार तेज गेंदबाज सिद्धार्थ शर्मा के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।  मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिजनों के साथ अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त की हैं।”

छोटा सा रहा करियर

सिद्धार्थ का घरेलू करियर भी ज्यादा लंबा नहीं रहा। उन्होंने लिस्ट- ए में 6  मैच जबकि एक टी20 मैच खेला था। 2021-22 में जब हिमाचल की टीम विजय हजारे ट्रॉफी की चैंपियन बनी तब उस टीम में सिद्धार्थ शर्मा भी शामिल थे।

Author

By Shujah M S

Editor @ Express Khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *